बिलासपुर के पुलिस ग्राउन्ड में आज 64वें राष्ट्रीय शालेय खेलकूद प्रतियोगिता का रंगारंग उद्घाटन हुआ

। 29 दिसंबर तक चलने वाले इस प्रतियोगिता में विभिन्न खेलों का प्रतिनिधित्व 900 खिलाड़ी कर रहे हैं।
इस प्रतियोगिता में 17 एवं 19 वर्ष आयु वर्ग के बालक-बालिकाओं के लिए किक बॉक्सिंग, 14 एवं 17 वर्ष के बालक-बालिकाओं के लिए रोप स्कीपिंग और 17 वर्ष आयु वर्ग बालक-बालिकाओं के लिए रोल बॉल के खेल होंगे।
प्रतियोगिता में 22 राज्यों की टीमें भाग ले रही हैं। इस प्रतियोगिता में असम, आंध्रप्रदेश, दिल्ली, गोवा, गुजरात, जम्मू-कश्मीर, झारखंड, मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र, मणिपुर, ओडिशा, पंजाब, राजस्थान, तेलंगाना, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल, उत्तरप्रदेश, छत्तीसगढ़ राज्यों के साथ सीबीएसई, केन्द्रीय विद्यालय संगठन, नवोदय विद्यालय और विद्या भारती संगठन के खिलाड़ी शामिल हो रहे हैं। खेल का उद्घाटन करते हुए मुख्य अतिथि, बिलासपुर के सांसद श्री लखन लाल साहू ने कहा कि शिक्षा के साथ-साथ खेल का समागम होने से जीवन में अनुशासन आता है। खेल हमें सिखाता है कि जीवन का लक्ष्य कैसे प्राप्त किया जा सकता है। राष्ट्रीय स्तर के इस खेल में अलग-अलग प्रांत के खिलाड़ी, अपनी अलग जीवन शैली और रहन-सहन के साथ शामिल हो रहे हैं। मेहमान खिलाड़ी, जो अच्छा अनुभव उन्हें मिले अपने साथ लेकर जाएं और जो बुरा अनुभव हो उसे यहीं छोड़कर जाएं। खिलाड़ी अपने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के माध्यम से अपने जिले, राज्य और देश का नाम रौशन करें।
कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए बिलासपुर के विधायक श्री शैलेष पांडेय ने कहा कि बिलासपुर के सौभाग्य की बात है कि यहां राष्ट्रीय स्तर का खेल हो रहा है। खेलों के माध्यम से न केवल देश का नाम विश्व स्तर तक पहुंचाया जा सकता है, साथ ही खिलाड़ी अधिक से अधिक संख्या में खेलों को अपना कैरियर बना सकते हैं। हमारा दायित्व है कि जो खेलों के माध्यम से अपना भविष्य बनाना चाहते हैं, उन्हें हम प्रोत्साहित करें।
आयोजन समिति के अध्यक्ष कलेक्टर डॉ. संजय अलंग ने कहा कि यह बिलासपुर के लिए बहुत खुशी का क्षण है। दर्शकों की आंखें बच्चों की चपलता देखकर नहीं थमेगी और यहां बेहतर से भी बेहतर खेल का प्रदर्शन होगा, ऐसी आशा है।
स्वागत उद्बोधन में जिला शिक्षा अधिकारी श्री एस. एन. हीराधर ने प्रतियोगिता के सम्बन्ध में विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने बताया कि 486 बालक और 438 बालिका तथा 250 प्रबंधक, कोच एवं अधिकारी इस खेल प्रतियोगिता में शामिल हो रहे हैं। इस अवसर पर सभी राज्यों के खिलाड़ियों ने आकर्षक मार्च पास्ट प्रस्तुत किया। इसी तरह पं. देवकीनंदन कन्या शाला एवं महारानी लक्ष्मी बाई कन्या शाला की छात्राओं ने रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया। मुख्य अतिथि ने राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिता का ध्वज फहराया और प्रतियोगिता के उद्धाटन की विधिवत् घोषणा की। सभी खिलाड़ियों ने खेल भावना से खेलने की शपथ ली। इस अवसर पर विधायक डॉ. कृष्ण मूर्ति बांधी, डॉ. रश्मि सिंह ठाकुर और श्री रजनीश सिंह तथा महापौर किशोर राय, जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती फरिहा आलम सिद्दीकी, सहायक कलेक्टर श्री कुणाल दुदावत सहित अन्य अधिकारी, शिक्षक-शिक्षिकाएं, छात्र-छात्राएं बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *