तोरवा पुलिस पर लगाए गंभीर आरोप,बापू उपनगर के युवक ने कहा अपराधियों को संरक्षण देते हुए पीड़ित पक्ष को ही दी जा रही है कार्यवाही की धमकी, एसपी को सौंपा ज्ञापन

बापू उपनगर निवासी रवि चौहान ने तोरवा पुलिस पर अपराधी के खिलाफ कार्यवाही नहीं करने और अपराधियों के साथ मिलीभगत कर पीड़ित के साथ ही अभद्रता करने का गंभीर आरोप लगाया है। इस संबंध में न्याय न मिलने की दुहाई देकर रवि चौहान ने एसपी को ज्ञापन सौंपा है। रवि चौहान के अनुसार सुकर का मांस बेचने वाला रवि चौहान 3 फरवरी की रात अपने भाई भूरा परिहार के साथ पावर हाउस के पास साहू पान सेंटर में गुटखा लेने गया था, जहां उसे 15-20 लोगों ने घेर लिया और लात घूंसों से मारपीट करते हुए चाकू की नोक पर उससे मोबाइल और 20,700 रु छीन लिए। किसी तरह वह घर पहुंचा और उसने इसकी शिकायत तोरवा थाने में दर्ज कराई। पुलिस की पेट्रोलिंग टीम उसे लेकर घटनास्थल पर पहुंची जहां आरोपियों में से तीन की गिरफ्तारी की गई ।रवि का आरोप है कि इसी दौरान पुलिस अपराधियों के साथ दोस्ताना व्यवहार करती नजर आई। उन्हें मोबाइल पर बात करने दिया गया जबकि शिकायतकर्ता के कहने पर भी उसे उसकी मोबाइल नहीं दी गई। रवि चौहान ने यह भी आरोप लगाया है कि अपराधियों के साथ सांठगांठ करते हुए जांच अधिकारी धनेश साहू ने लूट और मारपीट के गंभीर आरोप के बाद भी आरोपियों के खिलाफ केवल 151 की धारा के तहत ही कार्रवाई की और थाने से ही उन्हें छोड़ दिया । रवि का कहना है कि सुकर मांस विक्रय से मिले ₹20,700 लूटने वालों ने उस पर जानलेवा हमला किया है और भविष्य में भी वे ऐसा कर सकते हैं, लेकिन ऐसे तत्वों की गिरफ्तारी की बजाय तोरवा पुलिस उन्हें संरक्षण दे रही है। रवि चौहान की पत्नी ने भी तोरवा पुलिस पर अभद्रता करने का गंभीर आरोप लगाया है, जिन का आरोप है कि पुलिस जानबूझकर अपराधियों को संरक्षण दे रही है और पीड़ित पक्ष पर ही कार्यवाही की धमकी दी जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *