चकरभाठा पुलिस की बड़ी कार्रवाई कांग्रेस नेता के राईस मिल से भारी मात्रा में चोरी का पीडीएस चावल बरामद..मैनेजर समेत 3 गिरफ्तार

बिलासपुर—चकरभाठा पुलिस ने बीती रात कार्रवाई करते हुए भारी मात्रा में पीडीएस चावल बरामद किया है। पकड़ा गया चावल जिले के अलग अलग थाना क्षेत्रों के पीडीएस दुकानों का हैं। पुलिस के अनुसार चावल खरीदार मन्नालाल अग्रवाल समेत दो विक्रेताओं के खिलाफ अपराध दर्ज किया गया है।

      पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार पिछले एक सप्ताह से अलग अलग थाना क्षेत्रों से चावल चोर गिरोह की जानकारी मिल रही थी। पुलिस कप्तान के निर्देश पर टीम गठन कर चावल चोरो पर नजर रखी जा रही थी। इसी दौरान चकरभाठा पुलिस को मुखबीर से जानकारी मिली कि क्षेत्र से चावल चोरी में माहिर कुछ लोग पिकअप में भरकर चांवल बेचने बिल्हा स्थित लक्ष्मी राइस मिल/ एग्रोटक में बेचने जा रहे हैं।

        जानकारी मिलते ही पुलिस टीम ने घेराबन्दी कर दोनों आरोपियों को धर दबोचा। पकड़े गए दोनो आरोपियों ने अपना नाम  विजय कुमार रात्रे और दौलत पात्रे बताया। पुलिस के अनुसार विजय सरगांव और दौलत चिरौटी जिला मुंगेली का रहने वाला है।

           पूछताछ के दौरान दोनो आरोपियों ने बताया कि पीडीएस का चावल चोरी करने के बाद लक्ष्मीराइस मिल /एग्रोटेक बिल्हा जा रहे थे। दोनो आरोपियों ने जानकारी दी कि राइस मिल कांग्रेस नेता गौरव अग्रवाल का है। दोनों के निशानदेही पिकअप वाहन से 30 बोरी पीड़ीएस चावल को जब्त किया गया। 

       आरोपियों के बयान पर पुलिस ने लक्ष्मी राईस मिल/ एग्रोटेक पर धावां बोला। राइस मिल के मैनजर मन्नालाल अग्रवाल से पूछताछ की गयी। मन्नालाल ने कबूल किया कि पिछले कुछ महीने से चिरौटी समेत बेलगहन,सकरी , कोटा, हिर्री, तखतपुर, मल्हार, चकरभाठा, समेत मुंगेली के चोर गिरोह से पीडीएस का चांवल खरीदा है। 

         पुलिस ने मन्नालाल के बयान के बाद राइस मिल से 500 बोरी पीडीएस चांवल, पलटी की गयी पीडीएस चांवल की खाली बोरी को बरामद किया है। तीनों आरोपियों के खिलाफ  खाद्य अधिनियम के तहत अपराध दर्ज कर न्यायालय के हवाले किया गया।

कांग्रेस नेता का राइस मिल

जानकारी देते चलें कि बिल्हा रेलवे फाटक के पास स्थित राइस मिल का नाम लक्ष्मीराइस मिल/एग्रोटेक कांग्रेस नेता गौरव अग्रवाल है। मन्नालाल राइस मिल का मैनेजर है। मन्नालाल बिल्हा का रहने वाला है।

         सूत्रोे की माने तो मन्नालाल ने वफादारी दिखाते हुए सारा इल्जाम अपने  सिर ले लिया है। बहरहाल इतना निश्चित है कि राइस मिल में पीडीएस का चावल खरीदा जा रहा है। लेकिन इसकी जानकारी मालिक को नहीं है। बात लोगों के गले से नहीं उतर रही है। फिलहाल मामले को लेकर जमकर चर्चा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *