सावन महोत्सव में जमकर थिरकीं महिलाएं, धरती को हरा-भरा रखने का दिया संदेश


बिलासपुर। क्षत्रिय महिलाओ ने गुरुवार को सावन महोत्सव में रंगारंग प्रस्तुति देकर जमकर थिरकीं। इसके साथ ही पौधरोपण कर धरती को हरा-भरा रखने का संदेश दिये।
सावन का महीना अब कुछ ही दिनों में खत्म होने वाला है। सावन को हरियाली का महीना माना जाता है। इसलिए सावन महीने में हरे रंग का बड़ा महत्व है। इस महीने जगह-जगह सावन महोत्सव का आयोजन किया जाता हैं।
इसी क्रम में न्यायधानी बिलासपुर के विभिन्न छत्रिय संगठन की महिलाओं द्वारा सावन महोत्सव का आयोजन किया गया।. कोरोना काल में दूर-दूर रहने के बाद सभी महिलाएं एक जुट हुईं. हरे रंग की साड़ी, चूड़ी, बिंदी और सोलह श्रृंगार कर महिलाएं महोत्सव में शामिल होने पहुंची। कार्यक्रम में एक ओर जहां उन्होंने सांस्कृतिक कार्यक्रम में हिस्सा लिया। वहीं, दूसरी ओर पौधारोपण के धरती को हरा-भरा रखने का मैसेज दिया।
हॉटल ग्रेंड अम्बा में आयोजित इस कार्यक्रम में महिलाओं ने नाच-गाना कर सभी ने मनोरंजन किया। बेहतर परफॉर्मेंस के लिए महिलाओं को पुरस्कृत भी किया गया। वहीं, अंत में सावन सुंदरी का चयन कर एक दूसरे को सावन महोत्सव की शुभकामनाएं दी। इस मौके पर अखंड राजपुताना सेवासंघ की
अध्यक्ष सुलेखा सिंह, अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा की महासचिव संध्या सिंह, वीरांगना सचिव स्वाति सिंह, श्री राजपूत करणी सेना की प्रदेश अध्यक्ष प्रतिज्ञा सिंह, हिन्दू क्षत्रिय वाहिनी की अध्यक्ष सुनीता सिंह सहित संगठन की अन्य महिलाएं शामिल थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *